जगदीशपुर में आइसा व इनौस ने बजट की प्रतियां जलाकर किया विरोध

राजकुमार वर्मा/जगदीशपुर:-जगदीशपुर (भोजपुर)। छात्र संगठन आइसा व इनौस के कार्यकर्ताओं ने बजट 2021 को कम्पनी राज वाला व आर्थिक पुनर्जीवन व जनता की रोजी-रोटी की गारंटी मांगों के साथ विश्वासघात बताते हुए जगदीशपुर भाकपा माले प्रखंड कार्यालय से छात्र नौजवानों ने बजट के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जुलूस निकाला। जो किला गेट पहुँचकर बजट की प्रतिक्रिया जलाकर विरोध दर्ज किया। इस बीच देश की नीलामी नही सहेंगे, सार्वजनिक संस्थानों का निजीकरण बन्द करो, मोदी सरकार मुर्दाबाद जैसे नारें लगाया।

सभा को संबोधित करते हुए आइसा के प्रखंड सचिव कमलेश यादव ने कहा कि देश में कंपनी राज लागू करने वाला है वजट 2021 कोरोना महामारी के बाद आये मोदी सरकार के पहले बजट में शिक्षा का नाम मात्र का जिक्र किया गया है।जिसमें भी उच्च शिक्षा के लिए इस बजट में कोई जगह नही दिखी। कोरोना काल के चलते छात्रों की पढ़ाई बाधित हुयी। छात्रवृत्ति रोक दी गयी। कितने छात्रों ने कॉलेज फीस न भर पाने के चलते आत्महत्या कर ली। बावजूद इसके सरकार अपने नए बजट में भी छात्रों के प्रति उदासीन बनी रही।


आइसा प्रखंड अध्यक्ष शाहनवाज खान ने कहा कि बजट में खतरनाक रूप से नीचे गिर रही अर्थव्यवस्था को दुरुस्त करने की दिशा में कोई कोशिश नहीं की गई है।उल्टे रेलवे,एयर लाइंस,कोल इंडिया,इस्पात निगम, बीमा निगम, सड़क,खेती जैसी तमाम सार्वजनिक संस्थानों का निजीकरण कर बड़े कॉरपोरेटों को अकूत सम्पत्ति जमा करने की खुली छूट दे दी गई है। सभा का संचालन माले नेता सुनील चौधरी ने किया। मौके पर भाकपा माले प्रखंड सचिव विजय ओझा ,जीतेश कुमार, प्रीतम आनंद, तजमुल , सजुदिन ,मनोज राम,उपेन्द्र कुमार समेत अन्य छात्र युवा सहित कई लोग उपस्थित रहे।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

क्या R.K. Singh लोकसभा चुनाव 2024 में आरा लोकसभा से भाजपा के होंगे उम्मीदवार?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275