टीईटी अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज के खिलाफ आइसा और इनौस ने फूंका मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला।

 

कुणाल सिंह/गड़हनी आरा:-पटना के गर्दनीबाग धरनास्थल पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे टीईटी अभ्यर्थियों पर बर्बर लाठीचार्ज के ख़िलाफ़ छात्र संगठन आइसा ने राज्यव्यापी प्रतिरोध दिवस के तहत रेलवे पेरिसर आरा में मुख्यमंत्री नितीश कुमार का पुतला दहन कर आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन किया जिसका नेतृत्व इनौस जिला संयोजक शिवप्रकाश रंजन तथा आइसा सहसचिव सुशील यादव।
इस बीच नीतीश-मोदी शर्म करो, रोजगार मांगने पर लाठी चलाना बन्द करो, लाठी गोली की सरकार मुर्दाबाद , 19 लाख रोज़गार मांग रहा युवा बिहार जैसे नारों से रेलवे परिसर गूंजता रहा।

मौके पर इनौस जिला संयोजक शिवप्रकाश रंजन की अध्यक्षता में एक सभा का आयोजन किया गया जिसे संबोधित करते हुए कहा कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे टीईटी अभ्यर्थियों पर भाजपा-जदयू सरकार द्वारा बर्बर लाठीचार्ज की घटना की निंदा करते हुए कहा कि अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र देकर स्कूलों में योगदान की गारंटी करवाने की बजाए सरकार लाठी-गोली की भाषा बोल रही है. उन्होंने कहा कि विगत विधानसभा चुनाव में जब एनडीए गठबंधन को अपनी हार सुनिश्चित दिखलाई पड़ने लगी थी, तो उसने 19 लाख रोजगार देने का वादा किया था. लेकिन सत्ता में आते ही सरकार अपने वादे से मुकर गई उल्टे रोजगार मागने पर सरकार अब दमन का रूख अख्तियार कर रही है। जिसे बिहार का छात्र-नौजवान बर्दाश्त नही करेगा ।

आइसा राज्य सचिव सबीर कुमार ने कहा कि संवेदनहीनता की पराकाष्ठा है कि 94 हजार छात्र 2017 में ही टीईटी की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद अपने नियोजन की बाट जोह रहे हैं. 2019 में हाई कोर्ट के आदेश पर उनसे आवेदन भी लिए गए गए लेकिन नियोजन नहीं हो रहा है. तीन साल बीत जाने के बाद भी जब सरकार ने कोई यथोचित कदम नहीं उठाया, तब उन्हें आंदोलन का रास्ता पकड़ा है. सरकार को तत्काल उनकी मांगों पर गंभीरता से विचार कर नियोजन का उपाय निकालना चाहिए, लेकिन सत्ता के घमंड में चूर निर्दय भाजपा-जदयू की सरकार इतनी ठंड में रात के वक्त आंदोलनरत अभ्यर्थियों लाठीचार्ज कर रही है उनकी रसोई और पंडाल को उखाड़ दिया गया। कई अभ्यर्थियों को गिरफ़्तार कर लिया गया।
ऐसी क्रूर औऱ तानाशाही सरकार ख़िलाफ़ आइसा आर-पार की लड़ाई लड़ेगी । आइसा नेताओं ने टीईटी अभ्यर्थियों की सभी मांगों को अविलम्ब पूरा करने , बिहार में 3 लाख रिक्त पड़े पदों पर बहाली करने, लाठीचार्ज के दोषी पुलिसकर्मियों पर करवाई करने की मांग की है ।
मौके पर राकेश कुमार, रौशन कुशवाहा, अभिषेक कुमार, दृष्टि राज,अमृता कुमारी, अंशु राज,धीरन कुमार, गोवर्धन याद व, सुमित कुमार,हरेंद्र यादव, कमलेश कुमार,गौतम यादव, सियाकांत,अनूप शर्मा,दीपंकर कुमार, राहुल, गोलू सहित दर्जनों छात्र शामिल हुए ।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275