केंद्र सरकार किसानों को बहुराष्ट्रीय कम्पनियों के हवाले करना बंद करें : स्वदेश भट्टाचार्य।

केंद्र सरकार संसद का विशेष सत्र बुलाकर इन नये काल कृषि कानूनों को वापस ले : स्वदेश भट्टाचार्य।।

जब तक ये काले कानून सरकार वापस नहीं ले लेती,तब तक आंदोलन अनवरत जारी रहेगा-मनोज मंजिल।

25 जनवरी को इन कृषि कानूनों के खिसाफ निकलेगा मशाल जुलुश व 30 जनवरी को महागठबंधन के ऐलान पर लगेगी मानव श्रींखला-मनोज मंजिल

कुणाल सिंह/गड़हनी:-अगिआंव प्रखण्ड के कानूनों को वापस लेने को लेकर चल रहे किसानों की अनिश्चित कालीन धरना का 11वां दिन है धरना में शामिल होने के लिए भाकपा माले पोलित ब्यूरो सदस्य स्वदेश भट्टाचार्य अगिआंव प्रखंड मुख्यालय पर धरना स्थल पर पहुँचे और उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए, कृषि कानूनों के संदर्भ में जानकारी दी।उन्होंने कहा कि यह कानून किसानों के भविष्य को खतरे में डाल देगा साथ ही देश में खाद्य सुरक्षा के लिए भी गम्भीर संकट खड़ा करेगा , कृषि उत्पादन, भण्डारण और वितरण तीनों कम्पनियों के हाथों में चला जाएगा जिससे किसानों की आर्थिक हालात बद से बदतर हो जाएगी।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित कमिटियों पर जिक्र करते हुए कहा कि समिति के सभी सदस्य पहले से ही सरकार के करीब रहे हैं कल तक नई कानूनों को किसानों के हितों में होने की बात कह रहे थे, जो उनसे किसी तरह का बात कर उम्मीद रखना बेईमानी है उन्होंने कहा कि सरकार जल्द से जल्द कानूनों को वापस ले

सभा को संबोधित करते हुए विधायक मनोज मंजिल ने कहा कृषि कानून संविधान सम्मत है या नहीं इस बारे में सर्वोच्च न्यायालय ने अपने आदेश में कुछ नहीं कहा।किसी भी कानून को अदालत द्वारा रोक लगाने के लिए जरूरी होता है कि अदालत पाए कि वह कानून संविधान सम्मत है या नहीं,इस बारे में सर्वोच्च न्यायालय ने कुछ नहीं कहा।कानूनों पर रोक लगाने का उद्देश्य केवल कुछ सफलता को बोध देकर आंदोलनकारी किसानों को बिखेर देने का है।जिन चार सदस्यों के नाम सर्वोच्च न्यायालय ने पैनल में दिया है वे पहले से ही इन कानूनों के पक्ष में सार्वजनिक प्रचार कर चुके है।ये न्यायसंगत नहीं लगता।सर्वोच्च न्यायाधीश का महिलाओं को आंदोलन से दूर रखने वाला बयान बेहद आपत्तिजनक है।तीनों किसान विरोधी कानूनों के रद्द होने तक आंदोलन अनवरत जारी रहेगा ।लोगों से आंदोलन में बढ़ चढ़ कर भाग लेने का किया अपील ।

25 जनवरी को किसान विरोधी तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ निकलेगा मशाल जुलुश।30 जनवरी को लगेगी मानव श्रृंखला।धरना में उपस्थित,
सभा की अध्यक्षता भाकपा माले के जिला कमिटी सदस्य दंसई राम जी ने किया तथा संचालन भाकपा माले अगिआव प्रखंड सचिव रघुबर पासवान जी ने किया,सभा में उपस्थित सदस्यों में ब्लॉक कमिटी सदस्य व नाड़ी पंचायत समिति देवांती देवी जी, किसान नेता जय कुमार सिंह, भोला यादव, उपेन्द्र सिंह, विनोद चौधरी, विष्णु जी, प्रमोद सिंह,इनौस नेता अखलेश कुमार गुप्ता, अमित यादव, धन्नजय जी,जितेंद्र पासवान ,सनोज,रमेश चौधरी,भूषण यादव, अपु यादव,युवा नेता संजय साजन जी एवं आनंद कुमार आदि शामिल थे।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275