भारतीय डाक लिखे वाहन से भारी मात्रा में शराब बरामद, जाँच में जुटी पुलिस

(रितेश हन्नी/सहरसा) – सहरसा जिले की सदर थाना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर मंगलवार को दिन में करीब एक बजे शहर के सहरसा बस्ती पोखर से दक्षिण ईंट चिमनी के पास से भारी मात्रा में विदेशी शराब को जब्त करने में सफलता मिली है। भारतीय डाक लिखा वाहन मिनी ट्रक से करीब 250 से अधिक कार्टून विदेशी शराब लदा था। जिसे जब्त कर सदर थाना लाया गया। पुलिस को जाँच के दौरान वाहन पर लदी शराब के आगे पीछे पत्राचार से भरे बोरे में पत्र की जगह थर्मोकोल मिला।

शराब तस्करों ने पुलिस को चकमा देने के उद्देश्य से ही वाहन पर लदे शराब के आगे व पीछे प्लास्टिक के बोरे में डालकर रखा था। सदर थाना पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि सहरसा बस्ती पोखर के दक्षिण ईंट भटठा के पास एक लावारिश हालत में भारतीय डाक लिखा वाहन लगा हुआ है। गुप्त सूचना पर ही सदर थानाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह, अपर थानाध्यक्ष विधि व्यवस्था द्रवेश कुमार सहित अन्य पुलिस बल वहां पहुंचे तो मिनी ट्रक नंबर जिसका निबंधन संख्या डीएल 1 एलएसी 1387 पर इंडियन पोस्ट भारतीय डाक भारतीय सरकार सेवार्थ बड़े-बडे अक्षरों में लिखा हुआ मिला। पुलिस ने जब वाहन का पिछला दरवाजा ज्योहीं खोला पहले तो पुलिस को सिर्फ बोरा ही नजर आया। पत्र को बोरे में भरकर ले जानेवाले बोरा की तरह दिखने वाला बोरा को हटाया तो पूरे वाहन में विदेशी शराब का कार्टून ही कार्टून नजर आया। विदेशी शराब का ब्रांड एपीसोड कार्टून पर लिखा हुआ था।

सभी शराब हरियाणा सरकार निर्मित था। जब्त शराब को गिनती करने में पुलिस जवान लगे हुए थे। एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने सूचना पर पहुंचकर सदर थाना में जब्त शराब की तहकीकात की तथा कहा कि जब्त शराब का आकलन किया जा रहा है। इसमें लिप्त शराब तस्करों की खोजबीन की जा रही है। सदर थानाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह ने बताया कि शराब तस्करों की पहचान कर ली गयी है। जिसकी गिरफ्तारी हेतु छापामारी की जा रही है। सदर पुलिस ने डाक विभाग लिखे वाहन को सदर थाना क्षेत्र में पहली बार पकड़ी है। जिस वाहन से शराब का अवैध कारोबार किया जा रहा था। ताज्जुब की बात यह है कि डाक विभाग के वाहन की आड़ में शराब तस्कर इस वाहन से शराब का अवैध कारोबार करते थे। जिसका खुलासा सदर पुलिस ने किया है। जब्त शराब की कीमत खुले बाजार में करीब 20 लाख रुपये से अधिक की बतायी जाती है। छापामारी अभियान के दौरान पुलिस पदाधिकारियों के साथ सदर थाना के नकुल पासवान, सिपाही मिथिलेश सिंह सहित अन्य जवान मौजूद रहे।

अंधेरी रात में तस्कर शराब को लगाते ठिकाना

सूत्रों की माने तो शराब लदी जब्त वाहन में से कारोबारी विदेशी शराब को रात के अंधेरे में ठिकाना लगाता। लेकिन इससे पहले ही शराब पुलिस के हाथ लग गया। कहा जाता है कि शराब तस्करों के बीच कुछ लेन देन को लेकर मामला फंस गया और इसे रात में उतारने की तैयारी में शराब तस्कर लगे थे कि दिन में ही गुप्त सूचना के आधार पर सुनसान स्थल से डाक विभाग के लिखे वाहन पर लदे शराब को सदर पुलिस ने जब्त कर लिया।

लगभग एक वर्ष पूर्व बिहरा थाना क्षेत्र में भी डाक विभाग लिखी वाहन से पकड़ी गयी थी शराब, कारोबारी भागने में रहा था सफल

ज्ञात हो कि करीब एक वर्ष पहले भी बिहरा थाना क्षेत्र में भी डाक विभाग लिखा वाहन से भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब पकड़ी गयी थी। जिसके बाद यह दूसरी घटना है कि डाक विभाग लिखा वाहन से सदर थाना क्षेत्र से शराब से लदा वाहन जब्त किया गया है। कहते है कि शराब तस्कर पुलिस की आंखों में धूल झोंकने के उद्देश्य से ही एम्बुलेंस, डाक विभाग, बैंक के कैश वाहन की आड़ में शराब का अवैध कारोबार करता है। जबकि वाहन संबंधित विभाग का नहीं रहता है बल्कि शराब तस्कर ही नकली वाहन बनाकर उससे शराब का अवैध धंधा करते हैं।

फिलहाल सदर थाना पुलिस जांच कर रही है कि वाहन पर लिखे नंबर असली है या नकली ❓ पुलिस ने कहा कि वाहन के चेसिस व इंजन नंबर की पहचान कर वाहन मालिक का पता लगाएगी और उसके विरूद्ध विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275