DM ने जिले के वरीय पदाधिकारियों एवं प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों के साथ की समीक्षात्मक बैठक

संवाददाता रितेश/सहरसा

सहरसा:-जिलाधिकारी कौशल कुमार ने विकास भवन के सभागार में शनिवार की देर शाम जिले के वरीय पदाधिकारियों एवं प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों के साथ कोविड-19 एवं बाढ़ की पूर्व तैयारी सहित कई विषयों पर समीक्षात्मक बैठक की। जिलाधिकारी ने कहा कि संभावित कोरोना पॉजेटिव व्यक्तियों के मदेनजर पूर्व तैयारी हेतु आइसोलेशन सह टीटमेंट सेंटर की क्षमता को बढ़ाया जाना आवश्यक है। इसके लिए सभी प्रखंड स्तर पर एक-एक आइसोलेशन सह टीटमेंट सेंटर को चिन्हित करते हुए उक्त केन्द्र पर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं जिला स्तर पर संभावित पॉजिटिव व्यक्तियों के मद्देनजर कर्पूरी छात्रावास आइसोलेशन सह टीटमेंट सेंटर के अतिरिक्त पॉलिटेकनिक कॉलेज में 150 बेड की क्षमता का आइसोलेशन सह टीटमेंट सेंटर की तैयारी सुनिश्चित की जाय।

राज्य के बाहर से आ रहे प्रवासी श्रमिकों को मनरेगा के तहत रोजगार मुहैया कराने की दिशा में सभी कार्यक्रम पदाधिकारी मनरेगा को निर्देश दिया गया कि अबतक जिले में आये प्रवासियों का सर्वेक्षण कर इच्छुक प्रवासियों का जॉब कार्ड बनाना सुनिश्चित करें। कैम्प मोड में आगामी 02 जून 2020 तक जॉब कार्ड बनाने का निर्देश सभी कार्यक्रम पदाधिकारी मनरेगा को दिया गया ताकि आनेवाले समय में सभी को मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध कराया जा सके। इस संबंध में उप विकास आयुक्त ने जानकारी देते हुए कहा कि अब तक 11851 प्रवासी श्रमिको को जॉब कार्ड निर्गत किये गये हैं। शेष प्रवासी श्रमिकों को जॉब कार्ड उपलब्ध कराने की कार्रवाई युद्धस्तर पर की जा रही है। राज्य के बाहर से आये प्रवासी श्रमिकों एवं अन्य का सम्पूर्ति पोर्टल पर डाटा इन्ट्री की समीक्षा में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि यथाशीघ्र शत प्रतिशत प्रवासियों का डाटा इंट्री सुनिश्चित किया जाय। उल्लेखनीय है कि सहरसा जिला में जितने भी प्रवासी आ रहे हैं, उनका निबंधन कोविड पोर्टल पर किया जा रहा है तथा इसके माध्यम से उनका एक निबंधन संख्या सृजित होता है। आपदा प्रबंधन विभाग के सम्पूर्ति पोर्टल में उक्त निबंधन के आधार पर श्रमिकों के विवरण इंट्री कर इसके माध्यम से प्रवासियों को यात्रा किराया एवं 500 रूपये अनुमान्य राशि उनके खाता में हस्तांतरित की जा रही है। सरकार के दिशा निर्देश के अनुसार एक प्रवासी को यात्रा किराया एवं अनुमान्य राशि मिलाकर न्यूनतम 1000 रूपये लाभार्थी के खाता में हस्तांतरित किया जाना है। बाढ़ पूर्व तैयारी के संदर्भ में जिलाधिकारी ने सभी अंचलाधिकारियों को निर्देश दिया कि ऐसे पंचायत जो तटबंध के अंदर हैं और जहां बाढ़ की संभावना हो सकती है। इन पंचायतों में रह रहे सभी परिवारों की अद्यतन सूची तैयार कर ली जाय तथा परिवार के मुखिया का बैंक एकाउंट, आई.एफ.एस.सी.कोड एवं आधार का इन्ट्री कर डाटाबेस तैयार रखें ताकि बाढ़ की स्थिति में इन परिवारों को तुरंत राहत मुहैया करायी जा सके। नये राशन कार्ड निर्गत किये जाने की समीक्षा में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि राशन कार्ड विहीन जीविका सदस्यों के आवेदनों का तुरंत जांच कराकर योग्य लाभार्थी को आर.टी.पी.एस. के माध्यम से स्वीकृति देते हुए राशन कार्ड निर्गत करें। वहीं राशन कार्ड विहीन गैर जीविका व्यक्तियों के मामले में प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने स्तर से जांच कर यथाशीघ्र आर.टी.पी.एस. के माध्यम से स्वीकृति प्रदान करते हुए राशन कार्ड निर्गत करने की कार्रवाई करेंगे। मौके पर जिले के सभी वरीय पदाधिकारी एवं प्रखंड स्तरीय पदाधिकारी मौजूद रहे।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275