सेवा का जज्बा/जगदीशपुर में मजदूरों को रोजेदारों ने बांटी भोजन पैकेट

पांच दिनों से कुरैशी बिरादरी शहीद गेट के पास मजदूरों को रोक कर दे रहे हैं भोजन

संवाददाता सूरज कुमार राठी/जगदीशपुर

जगदीशपुर:-पवित्र रमजान माह में मुस्लिम समाज ने एकता भाईचारा व मानवता का मिसाल पेश की है। रोजे की हालत में खुद भूखे रहकर मजदूरों की सेवा में लगे हुए हैं।इन सभी का हौसले की जितनी तारीफ की जाए वह कम है।देश के अन्य प्रांतों से बस, ट्रक, पिकअप वैन व पैदल चल कर आगे जा रहे हैं प्रवासी मजदूरों को आरा मोहनिया एनएच थर्टी हाईवे पथ पर अमर शहीद गेट के समीप रोक कर नगर के कुरैशी बिरादरी (चिकटोली) द्वारा पूड़ी, सब्जी, बिस्कुट, तरबूज, चुरा नमकीन पानी पाउच के पैकेट एक-एक मजदूरों को सौंपा गया।

गुरुवार को बड़े वाहनों पर सवार व पैदल जा रहे हैं 600 लोगों के बीच भोजन पैकेट दिया गया। पिंटू वारसी के अगुवाई में दर्जनभर से अधिक युवाओं ने निस्वार्थ सेवा का परिचय दिया।कुरैशी बिरादरी के सदस्य पिंटू वारसी ने बताया कि यह अभियान बीते पांच दिनों से चल रहा है। महामारी के चलते पूरे जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। ऐसे में सारे काम धंधे ठप पड़े हुए हैं। मजदूरो व गरीबों का अब हौसला टूटने लगा और वह अपने घर के लिए पलायन करने लगे हैं।

ऐसी स्थिति को देखकर कुरैशी बिरादरी के मेंबरों ने निर्णय लिया कि अन्य प्रांत से लौट रहे हैं लोगों के बीच भोजन पैकेट मुहैया कराया जाए। इरफान कुरैशी शाहनवाज कुरैशी,अख्तर कुरैशी, बड़क कुरैशी, मनान कुरैशी, गौतम कुरैशी,सुल्तानी कुरैशी,साहेब कुरैशी सहित अन्य युवा सेवा कार्य में लगे हुए हैं।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

क्या R.K. Singh लोकसभा चुनाव 2024 में आरा लोकसभा से भाजपा के होंगे उम्मीदवार?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275