RJD में अपराधियों की भरमार , सुशील कुमार मोदी बोले- नीतीश ने राजद से हाथ मिलाया तो बढ़ा क्राइम

 

आरा :- भोजपुर में बेखौफ बदमाशों ने पिछले दिनों पटना एवं आरा के बड़े स्वर्ण कारोबारी की अपहरण करने के बाद बेरहमी से हत्या कर दी थी। पुलिस ने अगवाह कारोबारी हरि जी गुप्‍ता का शव शाहपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत आरा-बक्सर रानीसागर-कनैली गांव के पास से बरामद किया गया था। सोमवार को पीड़ित परिवार से मुलाकात करने आरा पहुंचे बीजेपी सांसद और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने महागठबंधन की सरकार पर जोरदार हमला बोला। सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि नीतीश कुमार ने जिस आरजेडी से हाथ मिलाया है, उसमें अपराधियों, बलात्कारियों और भ्रष्टाचारियों की भरमार है और महागठबंधन की सरकार अपराधियों को संरक्षण देने का काम कर रही है।

 

सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि जब बिहार में आरजेडी और महागठबंधन की सरकार बनी अपराध का ग्राफ तेजी से बढ़ा है। सुशील कुमार मोदी ने स्वर्ण व्यवसायी हरि जी गुप्ता की हत्या को काफी दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि जब से महागठबंधन की सरकार बनी है पूरे बिहार में दहशत का माहौल हो गया है। बिहार का व्यवसायी वर्ग एक बार फिर से खौफ के साए में जी रहा है। पुलिस किसी भी बड़े अपराध की घटना को हल्का बनाने के लिए नया एंगल दे देती है ताकि मामला तूल नहीं पकड़े। कारोबारी हरि जी की हत्या के पीछ अगर पैसे या किराए का विवाद होता तो उनका अपहरण नहीं हुआ होता।

 

उन्होंने संभावना जताई है कि पहले से कोई गिरोह इस मौके की तलाश में था। हरि जी बड़े कारोबारी थे और अपराधियों को इस बात की आशा थी कि उनको अगवा करने से उन्हें मोटी रकम मिल जाएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ और उनकी हत्या कर दी गई। राज्य के हर शहर में व्यवसायियों को लगातार निशाना बनाया जा रहा है। हरि जी की हत्या के बाद कारोबारी वर्ग में एक डर का माहौल पैदा हो गया है। इससे पहले भी भोजपुर में ऐसी कई घटनाएं घटित हो चुकी हैं। महागठबंधन की सरकार में अपराधियों का मनोबल काफी बढ़ गया है।

 

बीजेपी सांसद ने कहा कि आरजेडी के समर्थकों को यह लग रहा है कि अब उनक सरकार आ गई है और वे कुछ भी कर सकते हैं। आरजेडी में अपराधियों, बलात्कारियों और भ्रष्टाचारियों की भरमार है। इस दौरान उन्होंने भोजपुर के पूर्व विधायक अरुण यादव और नवादा के पूर्व विधायक राजबल्लभ को लेकर आरजेडी और महागठबंधन पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि राजद के कई विधायक भी दागी हैं। नाबालिक लड़की से रेप के मामले में राजबल्लभ आज तक जेल में बंद हैं। जबकि भोजपुर के पूर्व विधायक अरुण यादव डेढ़ सालों से फरार थे और जब उनकी सरकार बनी तो वह सरेंडर कर आरा के सदर अस्पताल में भर्ती है और रोजाना वहां दरबार लगाते हैं। इस दरबार में कई बड़ी-बड़ी हस्तियां भी उनसे रोजाना मिलने आया करती हैं। गठबंधन की सरकार में अपराधियों को पनाह दिया जाता है।

 

सुशील मोदी का कहना था कि पूर्व मंत्री कार्तिकेय कुमार जो अपहरण के मामले में अभियुक्त थे उन्हें जान बूझकर गिरफ्तार नहीं किया गया कि उन्हें बेल मिल जाए। पांच दिनों तक पुलिस छापेमारी का नाटक करती रही। उन्हें छोड़ने का सिर्फ एक ही मकशद था मोकामा का उपचुनाव। उपचुनाव में कार्तिकेय कुमार खुलेआम अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी के लिए वोट मांग रहे थे। नीतीश कुमार ने जिन लोगों के साथ हाथ मिलाया है वे अपराध, भ्रष्टाचार, रंगदारी, लूट, बलात्कार से उनको कोई परहेज नहीं हैं। ऐसे लोगों के साथ रहकर बिहार में सुशासन कायम नहीं हो सकता है।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275