भाकपा माले व इनौस की टीम ने गड़हनी में बने होम क्वॉरेंटाइन सेंटर का किया निरीक्षण।

संवाददाता कुणाल सिंह/गड़हनी:-भाकपा माले और इंक़लाबी नौजवान सभा की टीम ने गड़हनी के रामदहीन मिश्र हाई स्कूल में बने होम क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखे गए 24 मज़दूरों से मिली और उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। टीम ने मजदूरों से मिल उनकी हालत का लिया जायजा और पाया की सेंटर में जरूरी सुविधाओं की घोर कमी थी। मजदूरों से बात करने पर पता चला कि कल कि मजदूरों को यहां की प्रशासन सुबह 8 बजे ही यहाँ रखा गया पर दिनभर खाना नहीं दिया गया और न हाथ धोने के लिए साबुन।
भाकपा – माले की टीम ने आज से हर रोज पौष्टिक नास्ता , फल और बीच-बीच में अंडा देगी . आज दो साबुन (एक हाथ धोने और एक कपड़ा धोने के लिए साबुन) ,एक डिटॉल ,फिनाइल , खाने के लिए डिस्पोज़ल प्लेट ,ग्लास और बाथरूम में ओडोनिल दिया और फिर भाकपा माले के केंद्रीय कमिटी सदस्य मनोज मंज़िल ने जिला प्रशासन के ऊंच अधिकारियों , आरा एसडीएम से वार्ता कर आज ही मच्छरदानी, स्वच्छ पानी और मेडिकल किट, नास्ता ,साबुन , चाय और बिस्कुट उपलब्ध कराने की मांग की है।

टीम के नेतृत्वकर्ता व भाकपा – माले केंद्रीय कमिटी सदस्य मनोज मंज़िल ने कहा कि सरकार अमीरों को विदेश से फ्लाइट से लाई पर मज़दूरों को अपने हाल पर भूख से तड़पने और मरने के लिए छोड़ दी है।
उन्होंने ने कहा कि ये मजदूर पैदल ही दिल्ली से गड़ाहनी होते हुए अपने घर मोतिहारी जा रहे थे।जिन्हें होम क्वॉरेंटाइन में रखा गया लेकिन कोई सुविधा नही मिली सुबह से शाम तक भोजन भी नही दिया गया।
अंत मे उन्होंने कहा कि कल प्रवासी मजदूरों को शकुसल घर लाने, उन मजदूरों को लॉक डाउन मुआवजा देने के मांग पर भाकपा – माले,के आह्वान पर मनोज मंज़िल ,भाकपा माले समर्थित काउप पंचायत के मुखिया कलावती देवी ,बुद्धिजीवी और शाहीन बाग़ के अहम नेतृत्त्व अमीन भारती और मंज़ूर रजा एकदिवसीय भूख हड़ताल पर बैठेंगे।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275