एसटेट 2019 में व्यापक धांधली के खिलाफ  पुतला दहन 

आरा:-  एसटेट 2019 में व्यापक धांधली के खिलाफ आइसा और आरवाईए के आह्वान पर वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय आरा, मे  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन किया गया । शिक्षक अभ्यर्थी सातवें चरण की शिक्षक बहाली में मेरिट लिस्ट की आड़ में हो रही धांधली का विरोध कर रहे है और सभी एससटेट उतीर्ण अभ्यर्थियों की तत्काल बहाली की मांग कर रहे हैं । आइसा के जिला सहसचिव सुशील यादव संबोधित करते हुए कहा कि जब 37 हजार बहालियों के विरुद्ध महज 30599 अभ्यर्थी ही क्वालिफाइड हुए हैं, तब फिर व्यापक पैमाने पर अभ्यर्थियों को मेरिट लिस्ट की आड़ में बाहर कैसे कर दिया गया? हमारी मांग है कि एसटेट 2019 उत्तीर्ण सभी अभ्यर्थियों का नियोक्ति हो। यदि सरकार नहीं मानती है तो वह व्यापक आंदोलन झेलने को तैयार रहे । आइसा जिला उपाध्यक्ष कमलेश यादव ने कहा की  एसटेट 2019 के परिणाम में बड़ा घोटाला सामने आ चुका है । सरकार को इसे अविलंब ठीक करना होगा. हमें न तो कोई कमिटी चाहिए न सांत्वना चाहिये।  शिक्षकों के पद यूं ही खाली पड़े हुए हैं, इसलिए अविलंब सभी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को मेरिट लिस्ट में जगह मिले और उनकी नियुक्ति सुनिश्चित की जाए । अभ्यर्थियों ने कोटिवार व विषयवार सभी अर्हता हासिल अभ्यर्थियों की लिस्ट भी सार्वजनिक करने की मांग की । कहा कि जब शिक्षा मंत्री, शिक्षा मंत्रालय के प्रधान सचिव ने यह कहा था कि सभी qualified अभ्यर्थियों की नौकरी पक्की मानी जाए, तो अब वे हमारे जीवन के साथ खिलवाड़ क्यों कर रहे हैं? प्रदर्शन का नेतृत्व आइसा के सोशल मीडिया प्रभारी मृत्युंजय कुमार, रविकांत,जितेश,धनु कुमार,तूफानी,सुमित यादव,सुधांशु कुमार आदि छात्र-युवा कर रहे थे ।

[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275