भोजपुर में गहरे पानी में डुबने से तीन नबालिक बच्चियों की मौत,एक बच्ची की स्थानीय ग्रामीणों ने बचाई जान

 

रेलवे लाइन के निर्माण कार्य में जेसीबी से खोदे गए गढ्ढे में भरे पानी के बीच डुबकर सभी बच्चियों की हुई मौत

विकास सिंह/आरा:-भोजपुर में एक बड़ा हादसा हुआ है जहां पानी में डूब कर तीन बच्चियों की मौत हो गई।वही एक बच्ची जिंदा बच गई।जिसका इलाज रोहतास के बिक्रमगंज स्थित एक निजी क्लीनिक में कराया जा रहा है।घटना पिरो क्षेत्र के हसन बाजार ओपी इलाके के पचंमा गांव की है।जबकि मृत तीनों बच्ची व इलाजरत लड़की कातर गांव की रहने वाली है।मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि शुक्रवार शाम को बकरी चराने गई कातर गांव निवासी हिफाजत अंसारी की 14 वर्षीय बेटी रजिया खातून, शहाबुद्दीन अंसारी की 11 वर्षीय बेटी नरगिस खातून, मनोज कुमार सोनी की 14 साल की बेटी सुनैनी कुमारी और राशिद अंसारी की 9 वर्षीय बेटी अंजुम खातून कातर गांव के पास के ही पचमा गांव के बधार में बकरी चराने गई थी।बताया जाता है कि उनकी बकरिया बधार के पास में रेलवे लाइन के निर्माण कार्य के दौरान जेसीबी से खोदे गए पानी भरे गड्ढे में चली गई।बकरियों को निकालने के दौरान चारों बच्चियां भी गड्ढे में चली गई जहां तीन बच्चियां रजिया,नरगिस और सुनैनी की पानी में डूब कर मौत हो गई वहीं अर्जुन खातून बच गई। घटना के बाद आस-पास मौजूद लोगों को बच्चियों के डूबने का एहसास हुआ तो वह मौके पर पहुंचे और पानी भरे गड्ढे से तीनों बच्चियों के शव को काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाला। ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर तत्काल हसन बाजार थाने की पुलिस पहुंची और शवों के पंचनामा की कार्रवाई शुरू की।शुरुआत में तीनों मृतकों के परिजनों ने उनके शव का पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया लेकिन पुलिस के काफी समझाने के बाद परिजन शव के पोस्टमार्टम के लिए राजी हुए जिसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए आरा सदर अस्पताल भिजवा दिया.हादसे की फोन पर पुष्टि करते हुए हसन बाजार ओपी थाना प्रभारी शिवेन्द्र कुमार ने बताया कि करीब पांच छ: बच्चियां बकरी चराने के लिए पचंमा गांव के बधार में गई हुई थी तभी रेलवे लाइन निर्माण के लिए जेसीबी से खोदे गए गढ्ढे में उनकी बकरी गिर गई और उसे बचाने में चार लड़कियां डुब गई।जिनमें एक लड़की को स्थानीय लोगों द्वारा बचा लिया गया।जबकि तीन बच्चियों की मौत की गढ्ढे में भरे गहरे पानी में डुबने ले हो गई.फिलहाल तीनों के शव को सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और पूरी घटना की छानबीन की जा रही है।बहरहाल इस घटना के बाद से ही पूरे गांव में गम का माहौल है।वहीं मृत बच्चियों के परिजनों के करुण क्रंदन से पूरे गांव का माहौल गमगीन हो गया है।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275