पानी के तेज धारा से एक पीपा प्लेट छतिग्रस्त आवागमन बाधित

रमेश/बड़हरा :- प्रखंड अंतर्गत महुली पीपा पुल यास चक्रवात तुफान के दौरान विगत गुरुवार देर शाम तेज हवा व लगातार बारिश होने से गंगा नदी में जलस्तर बढ़ जाने के कारण भोजपुर जिला के सिन्हा ओपी क्षेत्र महुलीघाट स्थित महुली घाट सिताबदियारा पीपापुल क्षति ग्रस्त व उसका एक पीपा बह कर गंगा नदी के किनारे लग गया है । जिससे कल शाम से ही दो व चार पहिया छोटी वाहनों के साथ लोगो का परिचालन अवरुद्ध हो गया है । इन इलाके में जाने के लिए लोगो को जान जोखिम में डाल गंगा नदी के उफनती धारा में नाव से आना जाना करना पड़ रहा है । इसके लिए नाविकों द्वारा ओवर लोड सवारी के साथ दो पहिया वाहन नाव में लोड कर गंतब्य स्थान पर पहुचाने के लिए मनमानी पैसा वसूल रहे है । बिहार व उतरप्रदेश राज्य को जोड़ने वाला पीपापुल क्षति ग्रस्त होने के बाद लोगो को काफी परेशानियां हो रही है । लग्न के दिन में अचानक पीपापुल में खराबी आने से ख्वासपुर पंचायत के गावो एवं उतरप्रदेश राज्य के बैरिया ,रानीगंज व बलिया शहर सहित इसके जनपथ के गावो में वाहनों द्वारा बरात व तिलक में जाने के लिए लगभग 130 किलोमीटर की लंबी दूरी कर भाया बक्सर हो कर जाना पड़ रहा है । इस पीपापुल से इन जगहों पर जाने के लोगो को महज 40 किलोमीटर की यात्रा तय कर बलिया शहर पहुच जाते थे । वही इस जिला के बैरिया व रानीगंज जाने के लिए मात्र 12 किलोमीटर की ही यात्रा करनी पड़ती थी ।पीपापुल क्षति ग्रस्त होने की खबर सुन बड़हरा बीडीओ जयवर्धन गुप्ता ,सीओ रामबचन राम,सिन्हा ओपी प्रभारी राम लखन प्रसाद व ख़्वासपुर ओपी प्रभारी नागेंद्र कुमार उक्त स्थल पर पहुच उसका मुआयना करने के बाद उपस्थित नाविकों को नाव पर ओभर लोड नही करने व लोगो से तय सरकारी भाड़ा लेने।का आदेश दिया । इसका अवहेलना करने पर कानूनी कार्यवाही करने का चेतवानी भी दिया गया । बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के वरीय परियोजना अभियंता राम विलास यादव ने बताया कि पीपापुल के सटे नाव लगे हुए थे । जो गुरुवार के दिन तेज हवा से गंगा नदी में उठ रही लहर के कारण नाव द्वारा पीपापुल में ठोकर लग रहा था । जिसके कारण पीपापुल का जेटी टूट जाने से लगभग 25 फुट का गैप आ गया है । जिसकी मरम्मती के लिए सभी मशीनरी समान वहां पहुच गया है । शनिवार के दिन लगभग 2 बजे तक उसका मरम्मत कर लिया जाएगा । लेकिन यास तुफान के मद्देनजर आगामी 30 तारीख तक अप्रिय घटना को लेकर इस पर आवागमन का परिचालन बंद रहता तो अच्छा था । इसके लिए विगत 25 तारीख को ही डीएम को पत्र के माध्यम से सूचित कर 26 से लेकर 30 तारीख तक पीपापुल पर वाहनों का परिचालन बंद कर पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति के लिए सिफारिश की गई थी ।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275