लोगों ने घर में रहकर ईद मनाई घरों में ही अदा की गई नवाज

विशाल दीप सिंह/गड़हनी:-  भोजपुर पवित्र रमजान के पूरे 30 रोजों के बाद गुरुवार को आसमान पर ईद के चांद का दीदार हुआ। शुक्रवार को ईद का त्योहार था। इस दिन मुस्लिम समाज ईदगाह और मस्जिदों में ईद की नमाज अदा करता है। लेकिन ये दूसरा साल है जब कोरोना महामारी के चलते ईद की नमाज लोगों ने घर पर अदा की और मस्जिदे सुनी रही।गड़हनी में जिला प्रशासन शासन के निर्देश पर पूरी तरह मुस्तैद था। दो दिन पूर्व ही जिला प्रशासन ने उलेमाओं और संभ्रांत व्याक्तियों के साथ मीटिंग कर अपील की थी कि लोगों से कहें कि घरों में ही नमाज अदा करें। प्रशासन का कहना था कि इससे सोशल डिस्टेंसिंग तार-तार होने से बचेगी और हम कोरोना से लड़ने में सक्षम रहेंगे। इसी के तहत गुरुवार शाम और शुक्रवार सुबह मस्जिदों से ऐलान हुआ कि सभी अपने अपने घरों में ईद की नमाज अदा करें। गड़हनी में सादगी से ईद मनाई गई । इससे पहले अधिकतर मस्जिदों में कोविड नियमों के तहत बेहद कम लोगों ने नमाज अदा करने पहुंचे। मुस्लिम समाज के अधिकतर लोगों ने घरों में नमाज अदा की।
बाद नमाज मस्जिदों में कोरोना के खात्मे के लिए दुआ की गई।
इस दौरान गड़हनी में पुलिस दल भ्रमणशील रही ताकि नियमों का पालन कराया जा सके।
जिसका लोगों ने पालन भी किया है। मेले इस बार नहीं लगे हैं। घरों में नमाज अदा करने के बाद लोगों ने फोन के जरिए एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी। इस मुश्किल घड़ी में सारे लोग एकजुट होकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे है।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275