लाकडाउन मे अवैध बालू उत्खनन जोरों पर प्रशासन बना मुकदर्शक

 

रमेश/कोईलवर:- एक तरफ बिहार मे कोरोना संक्रमण को लेकर हाहाकार मचा हुआ है वही दूसरी तरफ स्थानीय थाना क्षेत्र मे कोरोना गाइडलाइन व लाकडाउन का धज्जियाँ उड़ाते हुए बालू माफियाओं ने महादेवचक सेमरिया,मानाचक कमालुचक व बड़हरा के सेमरा,फूहां गांव के सोन नदी के तटवर्तीय इलाके में बालू माफियाओं के द्वारा पोकलेन मशीन व हजारों मजदूरों के द्वारा अवैध बालू उत्खनन करने का मामला प्रकाश में आया है।वहीं हजारों ट्रक व ट्रैक्टर द्वारा हरेक गांव जिसमें फूहां,सेमरा,राजापुर, पचरुखिंया कला, कोल्हरामपुर, इंग्लिशपुर, दौलतपुर, जमालपुर, नारायणपुर, बिंदगावा सहित अन्य कई गांव में बालू स्टाक व रात दिन डंपिंग किया जा रहा है।जो ग्रामीण सड़क मार्ग व गली मोहल्ले से वाहनों के परिचालन शुरू हो जाने से धूल गरदा व दुर्घटना को लेकर काफी भयभीत नजर आ रहे हैं। हालांकि ग्रामीणों ने स्थानीय पुलिस,भोजपुर पुलिस, खनन पदाधिकारी सहित अन्य कई पदाधिकारियों को अवगत कराया है।हालांकि ब्राडसन कंपनी भी बालू माफियाओं व भोजपुर अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाया है जो कि बहुत से घाटों पर ब्राडसन कंपनी ने बालू उठाव बंद कर दिया है।लेकिन अवैध खनन व बालू ढुलाई के मामला मे अधिकारियों के द्वारा कोई कारवाई नहीं देख पुलिस को मुकदर्शक बने रहने से ग्रामीणों मे भारी आक्रोश व्याप्त हो गया है।


[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275